Short Stories

Short Stories regarding Philosophical concepts, motivation, great persons
Stories taken from Sanmati Sandesh (an earlier monthly Jain Magazine)

Short Stories

दूध का दूध और पानी का पानी

एक छोटे गांव में एक गूजरी रहती थी। उसके दो भैंसे थी। वह प्रतिदिन शहर में दूध बेचने के लिए ...
Short Stories

सुख शांति के लिये

सिकन्दर जब विजय करने के लिये भारत में आकर सिन्धु नदी के किनारे डेरा डाले पड़ा था। वह अपने गुरु ...
Short Stories

धर्म को न छोड़ दें

सेनापति! एक रथ में बैठाकर सीता को तीर्थ यात्रा करा दो। यात्रा कराने के बाद सिंहाटवी में अकेली छोड़कर तुम ...
Short Stories

संसारी की दशा

चन्द्रप्रभु तीर्थंकर अपने पूर्वभव में एक राजकुमार थे। एक दिन उन्होंने देखा कि सामने तालाब में कमल को देखकर हाथी ...
Short Stories

पेशा से वकील-जीवन से साधु

एक व्यक्ति अपनी अकेली विधवा चाची की सम्पत्ति हड़पना चाहता था। वह कई वकीलों के पास गया किन्तु संतोषजनक आश्वासन ...
Short Stories

ज्ञान का सदुपयोग

उनके परम मित्र स्मिथ ने कहा – इस समय विश्व में आपका ज्ञान सर्वोपरि माना जा रहा है। विश्व का ...
Short Stories

शरीर की परख करने वाले चमार हैं!

अष्टाव्रक का शरीर गर्दन से लेकर पांव तक आठ जगह टेढ़ा था। एक बार वे जनक जी की सभा मे ...
Short Stories

अहिंसक सिंह

मुलतान में उदयरामजी जैन की नवाब मुज्जफरखां से अच्छी घनिष्टता थी। एक बार नवाब ने एक शेर का बच्चा पकड़ ...
Short Stories

कल दूंगा

महाराज युधिष्ठिर के पास किसी याचक ने आकर कुछ मांगा। युधिष्ठिर को वह मनुष्य अच्छा दिखलाई पड़ा, अतएव युधिष्ठिर ने ...
Short Stories

मानव जन्म कब से ?

एक विवेकी विरागी बालक छोटीसी आयु में महाव्रत लेकर मुनि बन गया था। एक दिन वे आहार के निमित्त एक ...