Short Stories

बाल न बांका कर सके जो जग बैरी होय!

प्रद्युम्नकुमार को जान से मारने के लिये राजा कालसंवर के 500 लड़कों ने बहुत प्रयत्न किये किन्तु वे असफल रहे। अन्त में उन्होंने धोखा देकर उसे ऐसी जगह भेज दिया, जहाँ से कोई बचकर नहीं आ पाता था। परन्तु प्रद्युम्नकुमार का वहाँ भी स्वागत हुआ। इस प्रकार 16 स्थानों में ले गए किन्तु सभी स्थानों से उनको कुछ-न-कुछ लाभ मिला, कोई देवी-देवता भी उनका बाल बांका न कर सका। क्योंकि आयु कर्म शेष रहते कौन किसको मार सकता है?

Share:

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *