Daily Archives: December 12, 2013

Short Stories

अत्याचार सहना भी पाप

मौर्य साम्राज्य के अन्तिम सम्राट् बृहद्रथ को धोखे से मारकर जब उनका सेनापति पुष्यमित्र मगध का समा्रट बनकर ...
Short Stories

यह नैतिकता !

श्री पं॰ गोपालदास बरैया सन् 1905 में अकलूज निवासी सेठ नाथारंग जी गाँधी के साथ रुई और गल्ले ...
Short Stories

आत्म विश्वास

भरतपुर नरेश महाराज रणजीतसिंह सन! 1805 की जनवरी में अंग्रेजो से युद्ध के समय अपने किले की दीवारों ...
Short Stories

आत्म जागरण

सिंह हिरन को खाने के लिए दबोच ही रहा था कि इतने कें दो चारणमुनि आकाश से गमन ...
Short Stories

सार्थक जीवन

महाराज छत्रसाल भेष बदलकर अपने राज्य की जनता की सुख दुख की जानकारी के लिए रात्रि को घूमते ...
Short Stories

कौन किसको रोता है?

मिथिलानरेश महाराज नमिराज दीक्षा लेकर आत्मकल्याण करने के लिए वन में जाने को तैयार हुए तो रनवास में ...
Short Stories

इतना जीवन में हो, वही जैन है

एक आध्यात्मिक संत जैनों की सभा में उपदेश दे रहे थे। एक सज्जन ने कहा- श्रीमान जी, लोगों ...
Short Stories

विषयों के विष का आनन्द

नवाब वाजिद अली शाह संगीत का बेहद शौकीन था। एक बार एक सेवक से इटली का बना हुआ ...
Short Stories

अज्ञानी का आनन्द

रोम यूरोप का सुप्रसिद्ध नगर था। यहाँ पर नीरो नाम का एक बादशाह हो गया है। वह अत्यंत ...
Short Stories

अंधी दौलत

एक बार तैमूरलंग ने दिल्ली पर आक्रमण करके उसकी जीत की खुशी में उसने बहुत बड़ी दावत कराई ...